>

treatment of piles in hindi-बवासीर का इलाज हिंदी में


treatment of piles in hindi-बवासीर का इलाज हिंदी में
0
Categories : nuskhey
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

treatment of piles in hindi – वर्तमान समय में जिस प्रकार से आजकल के नौजवान अपने शरीर शरीर को स्वस्थ नहीं रख पा रहे हैं उस कारण से उन्हें बहुत बीमारियों का सामना करना पड़ रहा है उन्हीं में से एक बीमारी बवासीर है। बवासीर के नाम सुनते ही हमारे मन में डर पैदा होने लगता है हमारे मन में बहुत गलत विचार पैदा होने लगता है बवासीर कोई जानलेवा बीमारी नहीं है परंतु अगर आप उसे सही समय पर इलाज ना करें तो आपके लिए जानलेवा हो सकता है इसलिए आज हम आप लोगों को घरेलू नुस्खे के बारे में बताएंगे जिससे आप बवासीर को घर में ही नष्ट कर सकते हैं।

बवासीर दो प्रकार के होते हैं

1. खूनी बवासीर ।
2. बादी बवासीर ।

1. खूनी बवासीर :-

खूनी बवासीर में मरीज को मल के त्याग करते समय खून भी बाहर आता है। मल त्याग करते समय धीरे-धीरे खून उसके साथ निकलता है उस समय गुर्दे में तकलीफ होने लगती हैं। धीरे-धीरे मस्से सुजने और मोटा होने लगता है जिससे मन निकालते समय दर्द, जलन और खुजली बहुत ज्यादा होता है ।

बादी बवासीर :-

बादी बवासीर में ज्यादा परेशानी की बात नहीं होती है परंतु गुर्दे के आसपास खुजली दर्द और जलन होता है । अधिक घटने पर कभी-कभी गुर्दे के आसपास से खून भी बाहर आने लगता है परंतु या खूनी बवासीर से ज्यादा हानिकारक नहीं है ।

बवासीर होने का कारण

  • मोटापे होने के कारण से

  • अधिक देर तक खड़ा रहने के कारण से

  • लगातार भारी वजन उठाने के कारण से

  • कब्ज के कारण से भी बवासीर हो सकता है

treatment of piles in hindi-बवासीर का इलाज हिंदी में

 बवासीर को कैसे पहचाने :-

  • पेखाने के साथ खून आना

  • पेट बराबर खराब होना ।

  • दर्द जलन खुजली शरीर में बेचैनी होना ।

  • कब्ज हमेशा बना रहना ।

बवासीर से बचने के लिए घरेलू उपाय :-

treatment of piles in hindi-

  • सबसे सटीक और अनोखी उपाय है यह :- 

  • सबसे पहले आप 50 ग्राम मिर्ची ले ले और उसे गर्म कर ले इतने गर्म करें कि वह राख हो जाए राख होने के बाद उसे 20 ग्राम कत्था सफेद मिलाएं कुश्ता फौलाद 5 ग्राम मिलाएं और सभी को मिलाकर सुबह में 2 से 3 ग्राम मक्खन में डाल खाए और उसके साथ ही 250 लड़ाई स्प्लिटर दूध पी ले यह 15-20 दिनों में आपको बहुत बढ़िया रिजल्ट देगा खूनी बवासीर के लिए है इसमें आपको परहेज भी करना होगा जैसे गूढ़ गोश्त शराब आम अंगूर ना खाएं और अधिक जरूरी बात की कब्ज ना होने चाहिए।

 

  • बादी बवासीर के घरेलू उपाय : –

  • गेंदे का पत्ता 10 ग्राम से 15 ग्राम , काली मिर्च 5 से 7 दाने , कुंजा मिश्री 15 ग्राम , एक गिलास पानी में उसे रगड़ कर छान लें और उसे 5 से 7 दिन रोजाना ले।

  • गर्म चीज ना खाएं और कब्ज ना होने दें । 

     


  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Open chat